Exclusive ! प्रियामणि : 'मैदान' मेरे लिए मेरा बेस्ट बर्थ डे गिफ्ट होगी

Exclusive ! प्रियामणि : 'मैदान' मेरे लिए मेरा बेस्ट बर्थ डे गिफ्ट होगी

Anupriya Verma



पूरे भारत में इन दिनों साउथ सिनेमा और साउथ इंडियन स्टार्स बेहद पसंद किये जा रहे हैं। यही वजह है कि इन दिनों कई फिल्मों और वेब सीरीज में  साउथ के बड़े कलाकार नजर आ ही रहे हैं। प्रियामणि ऐसी ही अभिनेत्रियों में से एक हैं, जो काफी लंबे समय से हिंदी फिल्मों व वेब सीरीज के चर्चित नामों में से एक हैं। उनके शो ‘फैमिली मैन 1’ और ‘फैमिली मैन 2 से उनको सबसे बड़ी लोक्रप्रियता हासिल हुई है। इस शो में अगर श्रीकांत और  जेके की जोड़ी को पसंद किया गया है तो मैं सुचित्रा तिवारी के किरदार को भी नजरअंदाज़ नहीं कर सकती हूँ। इस शो में उन्होंने जिस तरह से एक स्ट्रांग महिला का किरदार निभाया है, वह उल्लेखनीय है। दरअसल, रियल जिंदगी में भी प्रियामणि उतनी ही स्ट्रांग पर्सनैलिटी हैं, जिसने मुझे काफी प्रभावित किया। एक तो वह सवालों को बहुत ध्यान से सुनती हैं और फिर बहुत स्पष्ट रूप से सवालों के जवाब देती हैं। साथ ही उनकी ही प्यारी ही हिंदी बोलने की जो अदा है, उसने मुझे उनकी तरफ और अधिक आकर्षित किया। राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित प्रियामणि जल्द ही अजय देवगन की फिल्म ‘मैदान’ में भी नजर आएँगी। प्रियामणि ने अबतक तेलुगू, मलयालम, तमिल और कन्नड़ भाषाओं के साथ-साथ हिंदी में कई प्रोजेक्ट्स में काम किया है। ऐसे में हाल ही हुई प्रियामणि से बातचीत में उन्होंने अपनी जिंदगी के कई पहलुओं के बारे में और साथ ही साउथ सिनेमा के बढ़ते क्रेज को लेकर खूब बातें की

मैं करियर के बेस्ट फेज में हूँ

प्रियामणि का मानना है कि वह अपने करियर के अभी बेस्ट फेज में हैं, जहाँ उन्हें कई सारे किरदारों को निभाने के मौके और  एक्सपेरिमेंट करने के मौके मिल रहे हैं।

प्रियामणि कहती हैं

खासतौर से अगर हिंदी फिल्म इंडस्ट्री की बात करूँ तोफैमिली मैन’ से लाइफ पूरी बदली है। लोगों ने सुचित्रा तिवारी के किरदार को जिस तरह से लोकप्रिय बनाया है, मुझ पर इतने सारे मीम्स बने हैं। हालाँकि मेरे किरदार को लोग खूब बातें सुनाते हैं, उन्हें लगता है कि सुचित्रा अपने पति के साथ अच्छा नहीं कर रही है। लेकिन मुझे इससे परेशानी नहीं है, क्योंकि एक कलाकार को यही चाहिए कि लोग उनके काम को नोटिस करे और लोगों ने मेरे शो से मुझे नोटिस करना शुरू किया है। खास बात यह भी है कि इसके बाद मुझे इतने अच्छे प्रोजेक्ट्स ऑफर हुए हैं, जिनके बारे में मैं कल्पना नहीं कर सकती थी। इसलिए मैं कहूँगी कि मैं अपने करियर के बेस्ट फेज में हूँ।

मैं हिंदी या साउथ नहीं, इंडियन सिनेमा मानती हूँ

प्रियामणि मानती हैं कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि अचानक से साउथ सिनेमा के कलाकारों का बॉलीवुड में दबदबा बढ़ा है, इससे पहले भी रेखा, श्रीदेवी, वैजयंतीमाला और ऐसे कई कलाकारों ने हिंदी सिनेमा में अपनी पैठ जमायी है।  लेकिन प्रियामणि खुश हैं कि अब दक्षिण सिनेमा के कलाकारों को केवल स्टीरियोटाइप में दिखाना बंद कर दिया गया है। प्रियामणि को  बॉलीवुड के इस बात से पहले परेशानी होती थी कि दक्षिण सिनेमा के संदर्भ आते ही, एक अलग एक्सेंट में हिंदी बोलते हुए किरदारों को दिखाया जाता है, जबकि उस तरह से कभी वहां के लोग बातें करते नहीं हैं।

इस बारे में वह कहती हैं

मेरी खुद की हिंदी के बारे में कहूँ तो मेरी हिंदी अच्छी है, बस इसमें थोड़ा सा साउथ का टच आता है। लेकिन इसका मतलब नहीं कि मेरा किरदार पर्दे पर अइयो या ऐसे किसी एक्सेंट में बात करेगा। मुझे ख़ुशी है कि आखिरकार दक्षिण सिनेमा के टैलेंट को पहचान मिल रही है। दर्शकों का ढेर सारा प्यार मिल रहा है, मैं तो शुरू से सिनेमा को साउथ या हिंदी में बांटती नहीं हूँ, मैं सिनेमा को इंडियन सिनेमा मानती हूँ। पहले जिस तरह से दक्षिण सिनेमा को पोर्ट्रे किया जाता था,अब वह बदल रहा है, क्योंकि अब वहां की फिल्मों को उसी रॉ रूप में दर्शक पसंद कर रहे हैं। हमें लगातार अच्छे ऑफर मिल रहे हैं। सिर्फ हमें ही नहीं, टेक्निशियंस को भी बॉलीवुड में बुलाया जा रहा है काम करने के लिए, तो यह हमारे लिए गर्व की बात है और यह सिलिसला ऐसा ही चलता रहे, मैं यही चाहूंगी।

बोल्ड सीन्स को लेकर स्पष्ट बात

प्रियामणि फिल्मों में बोल्ड सीन न करने को लेकर बहुत स्पष्ट हैं। उन्हें इस बात से फर्क नहीं पड़ता है कि लोग उनके बारे में क्या सोचते हैं।

वह स्पष्ट कहती हैं

मेरे साथ जो भी निर्देशक काम करते हैं, वे जानते हैं कि मैं पर्दे पर बोल्ड सीन करने में सहज नहीं हूँ। मैं अपनी बात बहुत स्ट्रेट फॉरवर्ड कह देती हूँ। इसकी वजह से मेरी हाथों से अगर फिल्म या प्रोजेक्ट जाये भी तो मुझे फर्क नहीं पड़ता है, मैं ऐसी एक्ट्रेस हूँ, जिसे क्वालिटी में नहीं, क्वांटिटी में यकीन है, ऐसे में अगर मैं बोल्ड सीन नहीं करूंगी तो मेरा करियर खत्म नहीं हो जाएगा। मैं वैसी फिल्मों का हिस्सा बनना चाहती हूँ, जिसको मैं अपने परिवार को दिखा पाऊँ।

मैदान मेरे लिए बर्थ डे गिफ्ट होगी

प्रियामणि पहली बार अजय देवगन के साथ फिल्म ‘मैदान’ में काम करने जा रही हैं, इस फिल्म को लेकर वह उत्साहित हैं

इस फिल्म के बारे में वह कहती हैं

मेरे लिए यह फिल्म मेरी बर्थडे गिफ्ट होगी, क्योंकि मेरे जन्मदिन के मौके पर रिलीज होने जा रही है। जो कि 3 जून को है और मेरा जन्मदिन 4 जून को होता है। 'फैमिली मैन 2' भी मेरे जन्मदिन के मौके पर ही रिलीज हुई थी तो मैं ब्लेस्ड हूँ कि मेरे जन्मदिन पर मेरे प्रोजेक्ट्स दर्शकों के सामने आते हैं और मुझे उससे ढेर सारा प्यार मिलता है।

आनेवाले प्रोजेक्ट्स
प्रियामणि को एकता कपूर के शोहिज स्टोरी’ से भी काफी लोकप्रियता मिली। इसके अलावा ‘अतीत’ शो में भी उनके काम को सराहा गया। आनेवाले प्रोजेक्ट्स की बात करें तो प्रियामणि 'मैदान' के अलावा तेलुगू फिल्म ‘विराटापार्वम’, 'कोटेशन गैंग', 'टीएफएम' 3 और एक ओटीटी प्रोजेक्ट AHA में भी नजर आएंगी।

प्रियामणि की मुस्कान के साथ-साथ उनके अभिनय की मैं तो कायल हूँ, उनके किरदारों में एक सहजता नजर आती है और मुझे इसलिए प्रियामणि काफी आकर्षित करती हैं। आनेवाले समय में मैं पूरी उम्मीद करती हूँ कि प्रियामणि को मैं और अभी हिंदी के प्रोजेक्ट्स में अपना हुनर दिखाते देखूंगी।