Exclusive! राजेश मापुस्कर ! अजय देवगन में नहीं है कोई सुपरस्टार वाला टैंट्रम,  गंदे रियल लोकेशन पर भी उन्होंने 
बिंदास शूट किया है

Exclusive! राजेश मापुस्कर ! अजय देवगन में नहीं है कोई सुपरस्टार वाला टैंट्रम, गंदे रियल लोकेशन पर भी उन्होंने बिंदास शूट किया है

Anupriya Verma

ओटीटी की दुनिया में अब बड़े सुपरस्टार की एंट्री खूब हो रही है। अभी तक बड़ी फिल्में ही ओटीटी पर रिलीज हो रही थीं, लेकिन अब ओटीटी की वेब सीरीज का हिस्सा भी बड़े स्टार बन रहे हैं। इस क्रम में हाल में देखूं, तो सुनील शेट्टी, माधुरी दीक्षित और अजय देवगन जैसे बड़े नाम सामने आते हैं। अजय देवगन अपनी वेब सीरीज ‘रुद्र’ से दर्शकों के सामने आने जा रहे हैं। ऐसे में उनके लिए भी यह नया अनुभव होगा, अजय की यह सीरीज एक साइकोलॉजिकल थ्रिलर है, जो ‘लूथर’ का हिंदी रूपांतरण हैं, 'लूथर' की लोकप्रियता ऐसी रही है कि यह कई भाषाओं में बनी हैं। हिंदी में इसे दर्शकों के सामने निर्देशक राजेश मापुस्कर लेकर आ रहे हैं, उनके लिए भी यह नया जॉनर है। राजेश ने अजय देवगन के बारे में बातचीत करते हुए मुझे बताया कि कैसे अजय ने पूरी टीम के साथ शूटिंग में बिना किसी नखरे के रियल लोकेशन पर शूटिंग की, साथ ही कोविड के बाद रियल लोकेशन शूट करना, अब निर्देशकों के लिए एक बड़ा चैलेन्ज क्यों हो गया है, मैंने राजेश से इस पर विस्तार से बातचीत की है

अजय ने किये हैं रियल लोकेशन में शूट

राजेश मापुस्कर ने अबतक ‘फरारी की सवारी’ जैसी फिल्मों का निर्देशन किया है, उनके लिए ‘रुद्र’ जैसी सीरीज का निर्देशन करना एक चैलेन्ज तो रहा, लेकिन अजय देवगन ने उन्हें पूरा सपोर्ट किया।

राजेश अजय के बारे में कहते हैं

अजय देवगन के साथ पहले दिन से ही एक अच्छी बॉन्डिंग हो गई थी। मुझे वह एक्टर और ह्यूम बीइंग के रूप में भी काफी पसंद हैं, मुझे याद है कि मैंने वीडियो पर उनको नैरेशन दिया तो, अपने बारे में बताने लगा कि मैंने क्या किया है,  लेकिन अजय ने कहा कि नहीं-नहीं सब ठीक है, हमलोग साथ काम कर रहे हैं और अधिक जानने की जरूरत नहीं है।  उन्होंने पहले दिन से ही मुझ पर कोई प्रेशर नहीं बनाया, उनकी अच्छी बात जो मुझे लगी, कोई टैंट्रम या सुपरस्टार वाले नखरे नहीं, वह एक नए बच्चे की तरह मुझे सेट पर पूरी तरह से सुनते थे, फिर अपना नजरिया रखते थे, लेकिन उन्होंने मुझे किसी चीज के लिए कोई दबाव नहीं दिया, वह टाइम पर आते थे, टाइम पर काम खत्म करते थे, शूटिंग जहाँ चल रही है, उसके पास ही बैठना, अपने पूरी लाइंस याद करना, रीडिंग करना, जहाँ भी रियल शूट्स लोकेशन थे, तो उन्हें साथ लेकर काफी डर भी लगता था कि सब ठीक रहे, क्योंकि कोविड के बाद काफी कठिनाई तो आ गई है, रियल लोकेशन शूट्स में, लेकिन मैंने देखा, उन्होंने कभी भी कोई नखरा नहीं किया, कहीं भी गंदे नाले, छोटी गलियां जहाँ भी जाने को कहा, वह चले और आराम से शूटिंग की। गंदे लोकेशन में भी वह चल कर आते थे। मुझे अजय के इंटेंस किरदार को और निखारने में मजा आया है और मुझे ख़ुशी है कि मुझे अजय जैसे एक्टर के साथ काम करने का मौका मिल रहा है। अजय के साथ हमने मुंबई के काफी पुराने लोकेशन को दर्शाया है।  


लूथर से कैसे होगी अलग

‘लूथर’ पहले से ही कई भाषाओं में बन चुकी है और लोकप्रिय हो चुकी है, ऐसे में उसे हिंदी दर्शकों तक नयेपन के साथ प्रस्तुत करना कितना कठिन है ।

इस चैलेन्ज के बारे में राजेश कहते हैं

मेरी यही कोशिश है कि मैं इसे कॉपी पेस्ट न करूँ और यहाँ के दर्शकों को ध्यान में रख कर, मैंने इसे रूप दिया है। मैंने काफी कुछ पढ़ा। मैंने लूथर की सारी स्क्रिप्ट पढ़ी। मैंने खुद इसके लिए काफी शरलॉक का कई काम पढ़ा, काफी अमेरिकन सीरीज, मूवीज देखी है, ताकि जान पाऊं कि वह स्टोरी की मॉउंटिंग कैसे करते हैं। मुझे जब इसके लिए अप्रोच किया गया, तो मैं भी हैरान था, क्योंकि यह मेरा जॉनर नहीं रहा है। मैंने ओरिजिनल शो देखा तो, मैं डर भी गया कि ऐसा शो बना है, लेकिन मैंने भी तय किया था कि कहानी मूल रहे, लेकिन ट्रीटमेंट भारत के हिसाब से होनी चाहिए और फिर मैंने उसी तरह से काम किया है इसपर। इस सीरीज में हमने मुंबई का ओल्ड चार्म दिखाया है ।

कोविड के दौरान रियल शूटिंग एक चैलेंज

कोविड के बाद रियल लोकेशन पर शूटिंग एक टफ टास्क हो चुकी है, इसके बारे में राजेश कहते हैं कि अभी प्रोटोकॉल के साथ काफी क्रू की सेफ्टी और हाइजीन का ख्याल रखना है। साथ ही जो पर्दे के पीछे हैं, उनके लिए तो ठीक, लेकिन जो कलाकार हैं, उन्हें तो बिना मास्क के ही काम करना पड़ा है, ऐसे में उनके लिए डर लगा ही रहता था, साथ ही ऐसे कई लोकेशन हैं, जहाँ हमें शूटिंग करने की परमिशन नहीं मिली कोविड प्रोटोकॉल की वजह से, तो उसकी वजह से तो परेशानी हुई है, लेकिन अभी क्या कर सकते हैं, हमारे हाथ में जो भी है, वही करना होगा। ऐसे ही मैनेज करना होगा।

महिला किरदार रहेंगी दमदार

'रुद्र' में महिला किरदारों को भी दमदार दिखाया गया है, इस बारे में राजेश कहते हैं कि ईशा देओल और राशि खन्ना ने सीरीज में दमदार किरदार निभाया है, क्योंकि मैं महिलाओं को हमेशा अच्छे किरदार देते रहना चाहता हूँ, तो दोनों का ही नया अवतार देख कर दर्शक चौंकने वाले हैं।

वाकई में, अभी राजेश मापुस्कर की बातें जानने के बाद, अजय की सीरीज को देखने की मेरी बेताबी और बढ़ गई है, मुझे पूरी उम्मीद है कि अबतक जितनी भी लूथर पर सीरीज या फिल्में बनी हैं, हिंदी रूपांतर भी सबसे बेहतर साबित हो। यह सीरीज डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर 4 मार्च से स्ट्रीम होने वाली है।