जॉन अब्राहम ! मैं ओटीटी पर बतौर एक्टर नहीं जाऊंगा, क्योंकि मुझे लगता है कि मैं बिग स्क्रीन हीरो ही हूँ

जॉन अब्राहम ! मैं ओटीटी पर बतौर एक्टर नहीं जाऊंगा, क्योंकि मुझे लगता है कि मैं बिग स्क्रीन हीरो ही हूँ

Anupriya Verma

ऐसे दौर में जहाँ, हर एक्टर ही अपनी फिल्मों के प्रोमोशन में सोशल मीडिया पर छाए रहने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं, ऐसे में मुझे जॉन अब्राहम जैसे कलाकार की बात प्रभावित कर गई कि उन्हें सोशल मीडिया पर, जरूरत से ज्यादा अपनी फिल्मों का प्रचार करना पसंद नहीं हैं। हाल ही में उनकी आगामी फिल्म अटैक को लेकर उनसे बातचीत हुई, तो उन्होंने कहा कि मैं इन्फ्लुएंसर नहीं हूँ, मुझे नहीं लगता कि मैं किसी को भी अपनी फिल्म देखने के लिए प्रभावित कर सकता हूँ। जॉन ने कहा कि वह सिर्फ एक वजह से सोशल मीडिया पर आते हैं, वह कारण क्या है और उनसे जुड़ीं और भी बातें, उनकी आगामी फिल्म अटैक के बारे में भी जॉन ने खुल कर बातचीत की, जिसके अंश मैं यहाँ शेयर कर रही हूँ।

सिर्फ जानवरों के लिए आता हूँ सोशल मीडिया पर

जॉन ने एकदम स्पष्ट कहा कि वह सोशल मीडिया को लेकर अधिक जागरूक नहीं हैं और दिलचस्पी भी नहीं रखते हैं।

Source : Instagram I @thejohnabraham

वह कहते हैं

मैं सोशल मीडिया पर बहुत अच्छा नहीं हूँ और मैं अपनी फिल्मों की रिलीज को लेकर वहां, किसी को इन्फ़्लुएंस भी नहीं कर सकता, मैं इन्फ्लुएंसर नहीं हूँ। मैं सिर्फ और सिर्फ एक कारण से वहां आ सकता हूँ और वह यह है कि मुझे जानवरों से बेहद प्यार है। मैं एनिमल्स सपोर्ट के लिए बहुत कुछ करता हूँ और उनके संस्थाओं के लिए भी। मैं यह नहीं कहता कि सोशल मीडिया अच्छा है, लेकिन मैं इसमें अच्छा नहीं हूँ,  ऐसा भी हो सकता है कि मैं इसे छोड़ भी दूँ, मुझे सोशल मीडिया की जरूरत नहीं लगती है।  मैं इसमें खुद को लाने के लिए फ़ोर्स करता हूँ, लेकिन मैं इसमें नेचुरल नहीं रह पाऊंगा।  सच कहूँ, तो मेरा मानना है कि अगर एक फिल्म अच्छी होगी, तो वह बिजनेस करेगी, नहीं होगी तो कुछ भी कर लो, वह हिट नहीं होगी। हाँ, अगर आपकी फिल्म अच्छी है तो वर्ड ऑफ़ माउथ पूरी तरह से काम आता है। मैंने कुछ बुरी फिल्में भी बनाई है, मैं जानता हूँ, लेकिन मैं अब लगातार अच्छी फिल्मों का हिस्सा बनना चाहता हूँ।

बिग स्क्रीन हीरो हूँ, ओटीटी पर नहीं आना है

जॉन ने इस बातचीत में यह भी स्पष्ट किया है कि वह बिग स्क्रीन के स्टार है, वह ओटीटी पर नहीं आना चाहते हैं। ऐसे दौर में जहाँ, ओटीटी पर खूब बड़े स्टार्स आ रहे हैं, जॉन की यह बात थोड़ी अलग है।

वह कहते हैं

मैं कभी ओटीटी के लिए एक्ट नहीं कर पाऊंगा, क्योंकि मुझे ऐसा लगता है कि मैं एक बिग स्क्रीन हीरो हूँ, मैं क्यों खुद को हर समय उनके लिए मौजूदगी दर्ज करूँगा, मुझे अच्छा नहीं लगेगा कि वह मेरी फिल्म अपनी कनविनियंस से देखेंगे। हाँ, मगर अगर वह मुझे ओटीटी पर अफोर्ड कर सकेंगे, तो मैं आऊंगा। मुझे लगता है कि कुछ स्टार्स बड़े पर्दे के लिए ही बने हैं, मुझे ऐसा लगता है कि मैं उनमें से एक हूँ। मैं ओटीटी के लिए प्रोड्यूसर के रूप में कॉन्टेंट जरूर बनाऊंगा, लेकिन एक्टर के रूप में नहीं जाऊंगा।

'अटैक' अलग मापदंड सेट करेगी एक्शन फिल्मों की श्रेणी में

जॉन कहते हैं कि उनकी फिल्म अटैक , आम एक्शन फिल्म नहीं है। वह इसके बारे में कई दिलचस्प बातें विस्तार से बताते हैं।

वह कहते हैं

मैं और लक्ष्य ( फिल्म के निर्देशक ),  बहुत समय से एक न्यू एज सिनेमा बनाना चाहते थे, लेकिन विषय नहीं मिल रहा था,  तो हमने तय किया कि क्यों न न्यू इंडिया पर फिल्म बनाई जाए। मैंने सोचा कि कुछ ऐसे विषय पर फिल्म बनाएं, जो प्रासंगिक भी हो, तो मैं एक आर्टिकल पढ़ रहा था, Exoskeletons, तो जब अमेरिका इस पर काम कर सकता है, तो हम क्यों नहीं, मैंने यह सोचा। DRDO (Defence Research and Development Organisation ) इस पर काम कर रहा है, हमारी आर्मी के लिए। हम एक अलग तरह का एक्शन ड्रामा बनाना चाहते ही थे और हमें यह कहानी मिल गई, तो हमने इस लेकर आगे बढ़ने का फैसला किया।

उन्होंने अटैक के सुपर सोल्जर फिल्म के इंस्पीरेशन के बारे में विस्तार से बताया

वह कहते हैं

मैंने एक लड़के को अमेरिका नाथन कोपलैंड में देखा था, वह वार वेटरन थे, जिनकी सर्जरी हुई थी, वह व्हील चेयर पर थे। उनकी गर्दन में एक चिप थी। आप जब अपने नर्वस सिस्टम को चोटिल कर लेते हैं, तो आप एक्शन नहीं कर सकते हैं कुछ खास तरह के। वह चिप आपको इंस्ट्रक्शन देता है, तब जाकर आप अपने हाथों और पैरों को घुमा सकते हैं। वह अब चिप के माध्यम से ही मूव कर पाते हैं।  उन्हें इस फिल्म के लिए हमने स्पेशल क्रेडिट दिया है।  हमें उनसे काफी प्रेरणा मिली। ऐसे में भारत के लिए भी वैसे चिप बन रहे हैं Exoskeletons, आर्मी के लिए। तो हमारे पास भी होंगे इंडियन सुपर सोल्जर्स।

वाकई, जॉन की इस फिल्म का ट्रेलर तो एकदम अलग है और काफी उम्मीदें भी जगा रहा है कि फिल्म कमाल होने वाली है। जॉन ने अब तक अपने होम प्रोडक्शन से अलग-अलग तरह की फिल्में दी हैं। विक्की डोनर और ऐसी कई फिल्में मिसाल रही हैं, उनके प्रोडक्शन की, ऐसे में यह फिल्म भी मुझे ऐसा लग रहा है, दर्शकों को पसंद आएगी और एक्शन फिल्मों की श्रेणी में नया अनुभव देगी। फिल्म 1 अप्रैल को सिनेमा थियेटर में रिलीज होने वाली है। फिल्म का निर्देशन लक्ष्य राज आनंद ने किया है। फिल्म में जॉन के अलावा रकुल प्रीत सिंह और जैकलीन फर्नांडिस भी हैं।