Exclusive ! Jitendra Kumar ! यह इंडस्ट्री की विडंबना है कि जो जिस किरदार में हिट है, उसको बस फिर वैसे ही रोल्स ऑफर होने लगते हैं

Exclusive ! Jitendra Kumar ! यह इंडस्ट्री की विडंबना है कि जो जिस किरदार में हिट है, उसको बस फिर वैसे ही रोल्स ऑफर होने लगते हैं

Anupriya Verma

ऐसे दौर में जब पूरी दुनिया थम गई थी, फिल्मों का निर्माण ठप्प हो गया था, लोग समझ नहीं पा रहे थे कि आखिर मनोरंजन के लिए क्या माध्यम चुनें, उस वक़्त ओटीटी की दुनिया में 'पंचायत' नामक एक शो ने दस्तक दी और देखते ही देखते, शो में लीड किरदार निभा रहे जितेंद्र कुमार उर्फ़ जीतू, लॉक डाउन के स्टार बन गए थे।  मुझे याद है कि कोरोना महामारी के दौरान 'पंचायत 'शो का पहला सीजन आया था और मैंने और मेरे पूरे परिवार ने इस कहानी का मजा लिया, कुछ वैसे ही जैसे कभी रविवार के दिन पूरे परिवार के साथ बैठ कर दूरदर्शन के शोज एन्जॉय किया करते थे, मैं ईमानदारी से कहूं तो इस शो ने उस दौर में मानसिक संतुलन को बनाने और सुकून देने में अहम भूमिका निभाई और अब एक बार फिर से शो का सेकेण्ड सीजन आ रहा है, तो मैं तो शो को लेकर उत्साहित हूँ। खुद जितेंद्र कुमार कितने उत्साहित हैं, उन्होंने मुझसे इस बातचीत में शेयर किया है।

नहीं है दूसरे सीजन को लेकर प्रेशर

जितेंद्र कहते हैं कि वह इस बात से वाकिफ हैं कि पहला सीजन कमाल रहा है, तो इस बार लोगों की उम्मीद बढ़ी है।

वह कहते हैं

मैं किसी भी तरह के प्रेशर में नहीं हूँ, मुझे तो ऐसा लग रहा है कि चीजें इम्प्रूव ही हुई हैं कहानी में भी और माहौल में भी और इस बार दर्शकों को प्रभावित करने के लिए हम दोगुनी मेहनत से आये हैं। मुझे इस शो को लेकर जो सबसे बड़ी तसल्ली मिली कि सबने मिल कर पंचायत देखी, अब एक बार फिर से पूरा परिवार में साथ में इसे देखता है, तो वहीं हमारी जीत होगी।


जो जिसमें हिट हो वैसे रोल्स मिलने लगते हैं

जितेंद्र मानते हैं कि यहाँ इंडस्ट्री में आपके एक किरदार हिट होते हैं, तो फिर वैसे ही रोल्स मिलने लगते हैं।

वह इस बारे में कहते हैं

यह इंडस्ट्री की विडंबना रही है कि जो जिस किरदार से हिट हो जाता है, फिर वैसे ही किरदार उन्हें मिलने लग जाते हैं। लेकिन मैं इस बारे में थोड़ा अलग सोचने लगा हूँ अब, मैं कहानी की दुनिया को देखता हूँ।  मेरे किरदार एक दूसरे से मिलते हैं, मानता हूँ, मुझे भी कई बार लगने लगता है कि वहीं कर रहा हूँ, लेकिन फिर मैं कहानी और दुनिया को अलग करने की कोशिश करता हूँ। फिर मुझे किरदारों के एक जैसा होने के बावजूद अपने तरीके से अलग करके काम करने में मजा आता है। मेरा यह भी मानना है कि निर्देशक अगर अलग विजन के साथ आते हैं, तो पहले निभाए किरदार को भी नए तरीके से निभाने में मजा ही आता है।
Source : Instagram I @jitendrak1

अब जिंदगी में प्लान ए बी सब कुछ अभिनय ही है

जितेंद्र जब शुरुआती दौर में मुंबई आये, तो चूँकि उनका इंजीनियरिंग बैकग्राउंड रहा, उन्होंने कोचिंग पढ़ाना भी शुरू कर दिया था, जब अभिनय की दुनिया में कुछ नहीं हो रहा था। लेकिन अब उनके लिए सबकुछ अभिनय है।

Source : Instagram I @jitendrak1

वह कहते हैं

मैंने शुरू में यह सच है कि कोचिंग्स ट्यूशन लेने शुरू किये थे, मुझे नहीं पता था आगे क्या हो रहा है, क्या नहीं या क्या होगा, तब प्लान बी लेकर चला था, लेकिन फिर जब इंडिया का पहला वेब शो आया, परमानेंट रूममेट्स, मैंने उसमें छोटा सा ही रोल किया था, लेकिन उस किरदार को जो लोकप्रियता मिली, मैंने सबकुछ छोड़ कर अभिनय को ही अपना सबकुछ मान लिया। फिर पिचर्स ने पूरी दुनिया ही बदल दी।

जितेंद्र ने यह भी बताया कि 'पंचायत 'शो में नीना गुप्ता और रघुवीर यादव जैसे वरिष्ठ कलाकारों के साथ उन्होंने काफी कुछ सीखा है, अब इतनी अच्छी बॉन्डिंग हो गई है कि सभी साथ मिल कर ही सबकुछ करते हैं।

वाकई, में मैं तो जितेंद्र को ओटीटी स्टार मानती हूँ, क्योंकि जितेंद्र उस दौर में वेब दुनिया में अभिनय करने आये, जब इसकी शुरुआत ही हुई थी, वह शुरुआती दौर के लीडर्स में से रहे, जिन्होंने इस क्षेत्र को बढ़ते हुए देखा और साथ-साथ अपनी जर्नी भी जारी रखी, ऐसे में आज जिस तरह से उन्हें सफलता मिली है, उसे देख कर मुझे बहुत ख़ुशी होती है और मैं पूरी उम्मीद  कर रही हूँ कि अमेजॉन प्राइम वीडियो  पर  20 मई2022 से 'पंचायत'  सीजन 2 स्ट्रीम होने जा रहा है और इस बार भी जितेंद्र कुछ मैजिक करेंगे और फिर हमें अगले सीजन का भी बेसब्री से इंतजार रहेगा।