करियर के साथ फैमिली को भी हमेशा तवज्जो दिया है साक्षी तंवर ने

करियर के साथ फैमिली को भी हमेशा तवज्जो दिया है साक्षी तंवर ने

Anupriya Verma

करियर के साथ फैमिली को भी हमेशा तवज्जो दिया है साक्षी तंवर ने

ऐसे दौर में जब सोशल मीडिया पर फॉलोवर्स और लाइक्स पर ही किसी की लोकप्रियता के मानक हैं, अपने किरदारों से सबका दिल जीत लेने वाली साक्षी तंवर अब भी सोशल मीडिया पर नहीं है, लेकिन काफी लोकप्रिय हैं। ‘कहानी घर घर’ की से मिली लोकप्रियता के बावजूद उन्होंने खुद को बस इसी किरदार में सीमित नहीं रखा। मुझे जब भी साक्षी तंवर से बातचीत करने का मौका मिला है, मैंने उनसे कुछ न कुछ नया ही सीखा है। जिंदगी में कैसे लोकप्रियता को खुद पर हावी नहीं होने देना, कैसे फोकस करके अपने काम को करते जाना और किस तरह काम के साथ-साथ अपने फैमिली वैल्यूज को भी जीवन का अहम हिस्सा मानना, साक्षी का ये अंदाज काफी लुभाता है। साक्षी की पर्सनैलिटी की खासियत है कि उनकी जिंदगी में जितनी सादगी है, उतना ही सशक्त उनका किरदार होता है।
पापा के बेहद करीब हैं साक्षी

साक्षी अपनी बातचीत में हमेशा अपने पापा का जिक्र करती ही हैं। कुछ सालों पहले रिलीज हुई फिल्म घर की मुर्गी रिलीज हुई थी, तो उनके पिता भी उनके साथ आये थे और मैंने गौर किया था साक्षी जिस तरह से उनका ख्याल रख रही थीं और उनके पिता भी साक्षी की लोकप्रियता और काम को देख कर काफी संतुष्ट नजर आ रहे थे। साक्षी ने यह भी हमेशा जिक्र किया है

मॉम बन कर खुश हैं

साक्षी तंवर अब एक बेटी की मां हैं और इस मामले में भी साक्षी ने काफी अलग तरीके से अपनी बेटी की परवरिश की है। वह बेटी को पूरी तरह से लाइमलाइट से दूर एक सामान्य जिंदगी जीने का मौका दे रही हैं।  साक्षी ने बातचीत के क्रम में यह बात जाहिर कि उनके लिए उनका परिवार हमेशा अहमियत रखता है। इसलिए अब एक माँ हूँ तो बेटी के लिए वे सारी चीजें कर रही हूँ, जो कभी माँ मेरे लिए किया करती थीं।

साक्षी ने डायल 100, दंगल, द फाइनल कॉल जैसे प्रोजेक्ट्स में बेहतरीन काम किया है। उन्हें उनके 48 वें जन्मदिन पर खूब बधाई।