सारा अली खान, आलिया भट्ट, करीना कपूर खान  जैसी इन अभिनेत्रियों ने बड़े ही शान से बढ़ायी है अपनी मां के अभिनय विरासत को

सारा अली खान, आलिया भट्ट, करीना कपूर खान जैसी इन अभिनेत्रियों ने बड़े ही शान से बढ़ायी है अपनी मां के अभिनय विरासत को

Anupriya Verma

किसी जमाने में जब करिश्मा कपूर ने फिल्मो में आने के बारे में सोचा था, तो उस कपूर खानदान में यह बातें हुई थीं कि कपूर खानदान की बेटियां फिल्मों में नहीं जाती हैं, लेकिन करिश्मा कपूर न केवल फिल्मों में आयीं, बल्कि उन्होंने एक शानदार पारी खेली, इसके बाद उनकी छोटी बहन करीना कपूर खान भी फिल्मों में आयीं और अब भी वह शानदार पारी खेल रही हैं। दरअसल, बॉलीवुड में ऐसी कई अभिनेत्रियां रही हैं, जिनकी बेटियों ने भी नक़्शे कदम पर चलते हुए फिल्मों में कदम रखा है। करिश्मा कपूर, काजोल, करीना कपूर खान और आलिया भट्ट और ऐसे कई नाम हैं इस श्रेणी में शामिल हैं। अवंतिका दसानी का नाम भी इन फेहरिस्त में जल्द ही शामिल हो रहा है। ऐसे में ऐसी कुछ अभिनेत्रियों की सफल बेटियों के अभिनय  करियर पर एक नजर, जिन्होंने अपनी मां की विरासत को संभाला, जिन्हें देख कर उनकी मां ने शान से कहा कि मारी छोरियां,छोरों से कम है के।

अवंतिका दसानी

‘मैंने प्यार किया’ का वह क्यूट गाना, तुम लड़की हो, मैं लड़का हूँ कि आया मौसम दोस्ती का अब भी देखो, तो उस गाने में एक अलग ही फ्रेशनेस नजर आती है। इस फिल्म से सलमान खान और भाग्यश्री दोनों ने ही अपने करियर की शुरुआत की थी। भाग्यश्री को इस फिल्म से इतनी लोकप्रियता मिली थी कि इसके बाद उनके सामने फिल्मों के ऑफर एक के बाद एक आने लगे थे, लेकिन उन्होंने अपने करियर को विराम दे कर, अपने परिवार को पूरा समय दे दिया। अब उनकी अगली जेनरेशन यानी उनकी बिटिया रानी अवंतिका दसानी फिल्मों में कदम रखने जा रही हैं। उनके बेटे अभिमन्यु दसानी को तो फिल्मों में उनके अभिनय के लिए लगातार सराहना हो रही हैं। अब उनकी बेटी अवंतिका भी फिल्मों में कदम रखने जा रही हैं। अवंतिका अपने करियर की शुरुआत जी5 की वेब सीरीज ‘मिथ्या’ से अभिनय की दुनिया में कदम रख रही हैं। इस सीरीज में वह एक स्टूडेंट के किरदार में हैं। अवंतिका फिलहाल 25 साल की हैं और शुरू से ही वह फिल्मों में आने का सपना देखती रही हैं। ऐसे में वाकई देखना दिलचस्प होगा कि वह अपने पहले शो से क्या कमाल कर पाती हैं।

सारा अली खान

सारा अली खान ने खुद मुझसे हाल ही में हुई बातचीत के दौरान यह बात कही कि जब उनकी तुलना कोई उनकी मां अमृता सिंह से करता है कि मैं उनकी तरह नजर आती हूँ तो मुझे बहुत अच्छा लगता है, मैं जिस दिन उनके स्तर का अभिनय करने लगूंगी, खुद को बहुत लकी मानूंगी। सारा अली खान ने अपने करियर की शुरुआत फिल्म ‘केदारनाथ’ से की थी। इस वक़्त वह सबसे लोकप्रिय अभिनेत्रियों में से एक हैं। उनकी फ्रेशनेस को दर्शक बहुत पसंद कर रहे हैं।

आलिया भट्ट

जब आलिया भट्ट लांच हो रही थीं, उस वक़्त मीडिया में और हर जगह यही बातें थीं कि महेश भट्ट की बेटी आलिया भट्ट फिल्मों में आ रही हैं। लेकिन लोग यह भूल गए थे कि आलिया भट्ट अभिनेत्री सोनी राजदान की भी बेटी हैं।  सोनी राजदान ने एक दौर में कई सार्थक फिल्में की हैं। उन्होंने कई ऐसे निर्देशकों के साथ पैरेलल फिल्में की, जिन्हें कई लिहाज से याद रखा जायेगा। आलिया भट्ट ने महेश भट्ट की विरासत को ही नहीं, अपनी माँ सोनी राजदान की विरासत को भी एक नयी दिशा दी है। आलिया में उनकी मां की छवि भी नजर आती है और वह अपनी मां की बेहद करीबी भी हैं।

करीना कपूर खान

करीना कपूर खान ने अपनी बहन करिश्मा कपूर के नक़्शे कदम पर चलते हुए फिल्म ‘रिफ्यूजी’ से अपने करियर की शुरुआत की थी। इस फिल्म में वह अभिषेक बच्चन के साथ थीं। करीना कपूर खान पर अपनी माँ और सदाबहार अभिनेत्री बबीता का काफी प्रभाव रहा है। करीना की भले ही पहली और शुरुआती दौर की कुछ फिल्में कामयाब नहीं रहीं, लेकिन धीरे-धीरे करीना ने अपनी शाख हिंदी सिनेमा इंडस्ट्री में जम कर बनायीं। वह न आज सिर्फ कई फिल्मों का, बल्कि कई ब्रांड एम्बेस्डर का चेहरा भी हैं और हिंदी फिल्म इंडस्ट्री की शीर्ष अभिनेत्रियों में उनकी गिनती होती हैं।

करिश्मा कपूर

करिश्मा कपूर अपने कपूर खानदान की उन शुरूआती जेनेरेशन में थीं, जब फिल्मों में लड़कियों का आना बेहतर नहीं समझा ज्जा सकता था। लेकिन मानना होगा अभिनेत्री बबीता को, उन्होंने न सिर्फ करिश्मा कपूर को फिल्मों में आने के लिए प्रेरित किया, बल्कि उनके करियर को नयी दिशा दी। करिश्मा ने 90 के दशक में हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में राज किया है। उनकी फिल्म ‘जुबैदा’ हमेशा ही यादगार फिल्मों में से एक रहेगी। करिश्मा कपूर ने फिल्म ‘प्रेम कैदी’ से अपने करियर की शुरुआत की थी।

काजोल

काजोल, गुजरे जमाने की लोकप्रिय अभिनेत्री तनुजा की बेटी हैं। तनुजा के परिवार की खास बात यह है कि तनुजा के परिवार में हमेशा से फिल्मों में औरतों ने बढ़ चढ़ कर अभिनय किया है। तनुजा की मां शोभना समर्थ उस दौर की अभिनेत्रियां रही हैं, जिन्होंने अपनी बेटियों को भी फिल्मों में अभिनय की दुनिया से जोड़ा। शोभना की बेटियां तनुजा और नूतन दोनों ही फिल्मों में आयीं। इसके बाद तनुजा की बेटी काजोल फिल्मों में आयीं। फिर तनीषा मुख़र्जी ने भी इंडस्ट्री में कदम रखा। काजोल ने बॉलीवुड में एक बड़ा मुकाम हासिल किया है। वह भी शीर्ष की अभिनेत्रियों में से एक मानी जाती हैं। उन्होंने प्रेम कहानियों से लेकर ‘दुश्मन’ जैसी फिल्में भी हैं और इसके अलावा ‘गुप्त’ में नेगेटिव किरदार भी निभाया है। काजोल ने ‘बेखुदी’ फिल्म से करियर की शुरुआत की थी।

इन अभिनेत्रियों के अलावा डिंपल कपाड़िया की बेटियां ट्विवंकल  खन्ना और रिंकी खन्ना भी फिल्मों में आयीं। हेमा मालिनी की  ईशा देओल भी फिल्मों में आयीं। शर्मिला टैगोर की बेटी सोहा अली खान भी लगातार फिल्मों में सक्रिय हैं।  सारिका की बेटियां श्रुति हसन और अक्षरा हसन भी फिल्मों में हैं।

वाकई में, लड़कियां अपनी मांओं की रानियां होती हैं और बॉलीवुड की अभिनेत्रियों ने साबित किया है कि वह अपनी मां के विरासत को आगे शान से ले गई हैं। इसलिए मुझे सभी अभिनेत्रियों की जर्नी इंस्पायर करती है, क्योंकि भले ही इन अभिनेत्रियों को नाम अपनी माँ का मिला हो, लेकिन इन्होंने अपनी मेहनत के दम पर पहचान बनाई है।