ओटीटी प्रेस कॉन्फ्रेंस पर आहना कुमरा ने कहा, "सेल्फ मेड लोग भी पैनल पर होना डिज़र्व करते हैं', विद्युत् जामवाल और कुणाल खेमू भी हुए निराश

Yashi Verma , 30 Jun 2020
Vidyut Jammwal, Aahana Kumra, Kunal Kemmu, (Source: Instagram | @mevidyutjammwal, @aahanakumra, @khemster)
Vidyut Jammwal, Aahana Kumra, Kunal Kemmu, (Source: Instagram | @mevidyutjammwal, @aahanakumra, @khemster)

बीते कल, यानी मंडे को ओटीटी प्लैटफॉर्म डिज़्नी प्लस हॉटस्टार ने अक्षय कुमार, अजय देवगन, आलिया भट्ट, आदित्य रॉय कपूर और वरुण धवन के साथ एक विर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी, जहाँ उन्होंने अनाउंस किया के उनके प्लैटफॉर्म पर 7 नईं फिल्में रिलीज़ होंगी। हालाँकि उन 7 फिल्मों में से दो, लूटकेस और खुदहाफिज़ की कास्ट, कुणाल खेमू, विद्युत जामवाल और आहना कुमरा को इस प्रेस कॉन्फरेंस में इन्वाइट तक नहीं किया गया। और इस बात पर अपनी नाराज़गी जताते हुए तीनों एक्टर्स ने अपनी बात रखी।

विद्युत ने ट्वीट करते हुए लिखा –

हाँ ज़रूर ही बिग अनाउंसमेंट है। 7 फिल्में रिलीज़ के लिए स्केड्यूल्ड हैं, लेकिन सिर्फ 5 फिल्मों को रिप्रेजेंट करने के काबिल समझा गया। 2 फिल्मों को ना इनविटेशन मिला और ना ही इंटिमेशन। बहुत लंबा रास्ता है। ये साइकिल चलते रहेगी।

यहाँ देखिये ट्वीट –

आहना कुमरा ने भी अपने को-स्टार, विद्युत का ट्वीट देखकर रिएक्शन दिया।

मिडडे की रिपोर्ट्स के मुताबिक़ आहना ने कहा-

मुझे इस प्रेस कॉन्फरेंस के बारे में विद्युत का ट्वीट देखकर पता चला। मैंने ये पूछने की तकलीफ नहीं की के मुझे इन्वाइट क्यों नहीं किया गया, क्योंकि मुझे पता है इसका जवाब नहीं मिलना है। जिन ओटीटी प्लैटफॉर्म्स के साथ मैंने काम किया है वो आपको प्रेजेंट करने के मामले में हमेशा बहुत ही वॉर्म, प्रोफेशनल और डेमोक्रैटिक रहे हैं। वो इक्वल रिप्रेज़ेंटेशन में गर्व महसूस करते हैं। मैंने ऐसा बिहेवियर पहली बार देखा है।

आहना ने आगे कहा –

विद्युत के आउटसाइडर हैं, जिन्होंने सब मेरिट पर बनाया है। हमें ऐसे टैलेंट को सपोर्ट करना चाहिए, ये सोचते हुए के आज के टाइम में इंडस्ट्री में बन पाना बहुत मुश्किल है। सेल्फ मेड लोग भी पैनल पर होना डिज़र्व करते है। हम सभी को इसका पार्ट होना चाहिए था।

कुणाल खेमू ने भी ट्वीट करके अपनी बात रखी।

उन्होंने लिखा –

इज़्ज़त और प्यार माँगा नहीं कमाया जाता है। कोई ना दे रो उससे हम छोटे नहीं होते। बस मैदान खेलने के लिए बराबर दें तो छलांग हम भी ऊँची लगा सकते हैं।

यहाँ देखिये –

आपका क्या कहना है इस बारे में ?

Related Stories

Related Stories

More हिंदी